Saturday, 11 November 2017

मुस्लिम रक्षा मंत्र

जहाँ साधक या साधना का नाम आता है तो वहाँ किसी धर्म या जाति का महत्व नही रह जाता सिर्फ साधक का साधना से संबंध होता है ओर कुछ नही आज हम यहाँ एक मुस्लिम रक्षा शाबर मंत्र विधान पोस्ट कर रहे है जो कोई भी साधक कर सकता है इसके साथ ही हम इसका सरल विधान पोस्ट कर रहे है...

छोटी मोटी थमंत वार को वार बांधे,
पार को पार बांधे मरघट मसान बांधे,
टौना टंवर बांधे जादू वीर बांधे,
दीठ मूठ बांधे चोरी छीना बांधे,
भेड़िया बाघ बांधे लखूरी स्यार बांधे,
बिच्छू ओर सांप बांधे लाइल्लाह का कोट,
इल्ललाह की खाई मौहम्मद रसूलिल्लाह,
की चौकी हजरत अली की दुहाई,

इस मंत्र की विधा बहुत ही आसान है इस मंत्र जप मे संख्या का कोई महत्व नही है इसको किसी भी ग्रहण काल या किसी पर्व काल की अवधि मे जपा जा सकता है इस मंत्र को से सुरक्षा के लिये ग्यारह बार पढकर अपने दाहिने हाथ से दोनो घुटनो पर हाथ मारे जिससे अली बला से सुरक्षा मिलती है..
जय माँ जय बाबा महाकाल जय श्री राधे कृष्णा अलख आदेश,,,

No comments:

Post a Comment

Jai Mahakaal: गुप्त नवरात्रि कब से है और क्या उपाय करें???

Jai Mahakaal: गुप्त नवरात्रि कब से है और क्या उपाय करें??? : मित्रों आप सभी को जय मां बाबा की आशा है कि मां बाबा की कृपा आप सभी पर बरस रही ह...